क़ुछ इस तरह से नाराज है वो हमसे,
जैसे उन्हे किसी और ने मना लिया हो
Share On Whatsapp




अंदर कोई झांके तो टुकड़ो में मिलूंगा,
यह हँसता हुआ चेहरा तो ज़माने के लिए है
Share On Whatsapp




अगर तुम अजनबी थे तो लगे क्यों नहीं और अगर मेरे थे तो मुझे मिले क्यों नहीं 😢 😢
Share On Whatsapp




काश वो आए और हमें देख कर कहे ... कि हम मर गए है जो तुम इतने उदास हो
Share On Whatsapp




काश वो आए और हमें देख कर कहे कि हम मर गए है जो तुम इतने उदास हो
Share On Whatsapp




बहुत अंदर तक तबाही मचाता है.. वो आँसू जो आँख से बह नहीं पाता
Share On Whatsapp




अब ना करूँगा अपने दर्द को बयान , जब दर्द सहना मुझको ही है तो तमाशा क्यों करना
Share On Whatsapp




करीब आओगे तो शायद हमे समझ लोगे.... ये दूरियाँ तो केवल फासले बढाती है
Share On Whatsapp