शौक़ नहीं है मुझे उदास रहने का,,
बस किसी की याद मुझे उदास कर देती है"
Share On Whatsapp




इतना, आसान हूँ कि हर किसी को समझ आ जाता हूँ​;​
शायद तुमने ही पन्ने छोड़ छोड़ कर पढ़ा है मुझे​।
Share On Whatsapp




सच कहा था किसी ने तन्हाई में जीना सीख लो,
मोहब्बत जितनी भी सच्ची हो साथ छोड़ ही जाती है !!
Share On Whatsapp




हवस ने पक्के मकान, बना लिये हैं जिस्मों में..
और सच्ची मुहब्बत किराये की झोपड़ी में, बीमार पड़ी है आज भी
Share On Whatsapp




खामोशियों के बादल कुछ इस कदर बरसे..
वो हमारे लिए और हम उनके लिए के लिए तरसे
Share On Whatsapp




रोया हूँ उसके लिए चेहरे पे दोनों हाथ रख कर भी..
कौन कमबख्त कहता है लड़के रोते नहीं..
Share On Whatsapp




नफरत मेरी इतनी भी सस्ती नहीं जो तुम पर ज़ाया करू 😎
Share On Whatsapp




Sunte hai ki mil Jati hai Har Cheej Dua se..
Ik roj Tumhe maang ke Dekhenge Khuda se..
Share On Whatsapp