मौत पार भी है यकीन
और मुझे उन पार भी इतबार है,
देखते है पेहले कौन आती है मेरे पास
अब मुझे दोनो का इंतझार है!!!

Share On Whatsapp




प्यार के किस्से तो पुराणे हो गये,
दिल को धडके जमने हो गये,
ख़ुशी  के पल तो जैसे अफसाने हो गये,
और गम तो जैसे जीने के बहाने हो गये.!!!

Share On Whatsapp




 घर से बहार वो नकाब में निकली
सारी  गली उनकी फ़िराक में निकली
इंकार करते थे वो हमारी मोहब्बत से
और हमारी ही तस्वीर उनकी किताब से निकली !!!

Share On Whatsapp




अब सुकून है तो उसे भुलाने में है 
लेकिन उस शस्क को भुलाये कौन ?
आज फिर दिल है कुछ उदास उदास 
देखिये आज फिर याद आये कौन ??

Share On Whatsapp




चाहो तो दिल से मिटा देना ,
चाहो तो भुला देना 
पर ये वादा करो के 
कभी मेरी याद आये तो 
रोना मत ,मुस्कुरा देना !!!

Share On Whatsapp






दूर चाँद कही जल रहा होगा 
किसी का दिल मचल रहा होगा 
उफ़ !!मेरे पैरो में ये चुबन कैसी है 
जरूर कोई काटो पैर चल रहा होगा !!!!

Share On Whatsapp




आँखे खोलू तो चेहरा सामने तुम्हारा हो 
बंद करू तो सपना तुम्हारा हो 
मर जाऊ तो  भी कोई गम नही 
अगर खफन के बदले आँचल तुम्हारा हो !!!

 

Share On Whatsapp




रुला के जो माना ले वो सच्चा यार है 
ओर 
जो रुला के खुद आँसू भाए वो सच्चा प्यार है.

Share On Whatsapp